gau seva

लॉकडाउन के शुरुआत से अब तक चल रही है गौ सेवा

लावारिस गौवंश हेतु बनाया कृत्रिम तालाब

नागौर। भागवत सेवा प्रकल्प ट्रस्ट की भूमि पर प्रसिद्ध कथा वाचिका पूज्या देवी ममता (देवीजी) द्वारा लावारिस गौवंश की सेवा लाॅकडाउन से निरन्तर जारी है।

कथा मीडिया प्रभारी कंचन पंचारीया ने बताया की भीषण गर्मी के कारण लावारिस गौवंश की दुर्दशा होती है, हरे चारे व पानी के लिए गौवंश इधर-उधर भटकते रहते है और इसी कारण भूख प्यास से गौवंश की मृत्यु हो जाती है। गौवंश के इस पीड़ा को ध्यान में रखते हुए ट्रस्ट के माध्यम से देवीेजी ने लावारिस गौवंश के सूध ली।

प्रतिदिन लावारिस गौवंश को डाला जाता है हरा चारा व गुड़ -देवी ममता

देवीजी अपने ट्रस्ट के माध्यम से प्रतिदिन लावारिस गौवंश हेतु हरे चारे व गुड़ की व्यवस्था करते है, बढ़ती भीषण गर्मी होने के कारण गौवंश के लिए कृत्रिम तालाब का निर्माण किया गया है। इस कृत्रिम तालाब में गौवंश पानी पीकर अपनी प्यास शांत करते है और कृत्रिम तालाब के कारण आसपास की भूमि भी ठंडी रहती है जिससे गौवंश आराम से विश्राम कर सके साथ ही साथ 50 गुणा 50 का टेन्ट लगाकर गौवंश हेतु छांव की व्यवस्था की गई। लावारिस गौवंश के देख-भाल और साफ-सफाई हेतु एक व्यक्ति निर्धारित किया गया है।
देवी ममता ने बताया की अनेक गांवो में गौभक्तों द्वारा गोमाता के लिए पानी खेली बनायी हुई होती है, लेकिन भीषण गर्मी में पानी की खेलीया सूखी रहती है और गौवंश पानी के लिए इधर-उधर भटकता रहता है। इसलिए गांव के लोगों से निवेदन है कि उन पानी की खेलियों को गर्मी में सूखा न रखे, पानी डालकर गोमाता की प्यास को शांत कर पुण्य लाभ अर्जित करें।

नागौर वासी गौवंश व अन्य जीवों के लिए पानी की खेली मंगवा सकते है

मीडिया प्रभारी ने कहा की देवीजी ने बताया की इस भीषण गर्मी में नागौर के गोभक्त जो गौवंश हेतु पानी की व्यवस्था करना चाहते है परंतु उनके पास खेली की व्यवस्था नहीं है ऐसे गौभक्तों हेतु खेली की व्यवस्था ट्रस्ट द्वारा आपके घर बैठे ही की जायेगी। आप श्री खेली हेतु ट्रस्ट के सम्पर्क सुत्र पर सम्पर्क करे और आपके घर, मोहल्ले में खेली पहुंचा दी जायेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Open chat
भागवत सेवा प्रकल्प ट्रस्ट में आपका स्वागत है! कथा संबंधित जानकारी एवं न्यूज़ अपने मोबाइल पर पाने के लिए कृपया अपना नाम और पता लिखकर हमें भेजे।